* मुखपृष्ठ * * परिचय * * टैली इनर्जी * * रोमन-हिन्दी * * महाशब्दकोश * * कनवर्टर * * हिन्दी पैड * * संपर्क *
" जीवन पुष्प में आप सभी का हार्दिक स्वागत है "

" प्रकृति की गोद में खिला एक सुंदर कोमल पुष्प कली से फूल बनकर अपने सम्पूर्ण वातावरण को सुगन्धित करने का ध्येय रखते हुये कभी गर्मियों की तपिश, तो कभी बरसातों की बौछार, तो कभी शर्दियों की ठिठुरन और ना जाने क्या क्या सहकर ये अपने अस्तित्व को कायम रखने के लिए हर संभव कोशिश करता है। ये आने वाली पीढ़ी का सृजन कर मुरझाकर सूख जाता है और धरती पे गिरकर मिट्टी में विलीन हो जाता है। हमारा संपूर्ण मानव जीवन भी एक पुष्प के समान है...। "

Followers

23 September, 2012

माँ की दुआ



कागज की बनी कश्ती 
कुछ देर तक ही तैरती है 
पन्नों की बनी चिड़ियाँ 
कुछ दूर तक ही उड़ती है
पर, हमें तो पार करना है 
मुश्किलों से भरा दरिया 
और, पंख फैलाये उड़ना है
फलक के उस पार तक 
जहाँ इंतजार में खड़ी है
कामयाबी की घड़ियाँ 
बनाना है दृढ़तापूर्वक
विश्वास से भरी कश्ती  
जो तूफानों से लड़ सके 
मझधार से निकल कर 
मीलों दूर आगे बढ सके  
मिला सके उस मंजिल से
जिसके लिए मेरी माँ
दुआ कर रही है दिल से...!

22 comments:

दिगम्बर नासवा said...

आमीन ... माँ की दुआ कभी खाली नहीं जाती ..
आप मंजिल जरूर पायें ... भावपूर्ण अभिव्यक्ति ...

Mamta Bajpai said...

मिला सके उस मंजिल से
जिसके लिए मेरी माँ
दुआ कर रही है दिल से...!
बहत सुन्दर है बधाई

***Punam*** said...

आमीन....!!

भावपूर्ण......

expression said...

बहुत खूबसूरत एहसास......
माँ की दुआ से तो कागज़ की कश्ती भी तर जाए...

अनु

sangita said...

माँ के दिल की दुआ सदैव ही सफल होती है ,सुन्दर समर्पित पोस्ट ,बधाई|

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

माँ की दुआएं हर मंज़िल तक पहुंचा देती हैं ॥सुंदर

रश्मि प्रभा... said...

माँ की दुआ कभी बेअसर नहीं होती ...

Madan Mohan Saxena said...


पोस्ट दिल को छू गयी.......कितने खुबसूरत जज्बात डाल दिए हैं आपने..........बहुत खूब
http://madan-saxena.blogspot.in/
http://mmsaxena.blogspot.in/
http://madanmohansaxena.blogspot.in/

सदा said...

मां की दुआ हमेशा कुबूल होती है ...

mridula pradhan said...

जिसके लिए मेरी माँ
दुआ कर रही है दिल से...!.....bahut sunder....

dheerendra said...

माँ की दुआ से बढ़कर कोई दुआ नही
माँ जैसा पवित्र रिश्ता कोई दूसरा नही
माँ की ममता का कोई पर्याय ही नहीं
पूरी दुनिया में माँ तेरे जैसा कोई नही,,,,,

RECENT POST समय ठहर उस क्षण,है जाता,

ऋता शेखर मधु said...

माँ की दुआ है...ईश्वर को सुननी पड़ेगी...शुभकामनाएँ!!

Vinay Prajapati said...

very very nice :)

----
अपनी रचनाओं का कॉपीराइट मुफ़्त पाइए

Aziz Jaunpuri said...

gahan anubhution se otprot sundr prastuti,

Madan Mohan Saxena said...

पोस्ट दिल को छू गयी.......कितने खुबसूरत जज्बात डाल दिए हैं आपने..........बहुत खूब
बेह्तरीन अभिव्यक्ति .आपका ब्लॉग देखा मैने और नमन है आपको और बहुत ही सुन्दर शब्दों से सजाया गया है लिखते रहिये और कुछ अपने विचारो से हमें भी अवगत करवाते रहिये.

Chaitanya Sharma said...

सच में माँ तो माँ ही होती है........

madhu singh said...

ma swayam me prem ke anant vistar ki jivant pratiipi hoti hai, sundar prastuti, shubh deepawali

दिगम्बर नासवा said...

माँ की दुआएं हमेशा साथ चलती हैं ... दिल को छूती हुई ...

tbsingh said...

good expression of feelings.

ब्लॉग बुलेटिन said...

ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन अक्षय तृतीया मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

Anju Mishra said...

सुंदर अभिव्यक्ति

CMA Krishna Dasan said...

Fantastic

There was an error in this gadget

लिखिए अपनी भाषा में...

जीवन पुष्प

हमारे नये अतिथि !

Angry Birds - Prescision Select